बागेश्वर धाम का इतिहास क्या है?/ Bageshwar dham ki history

Bageshwar dham ki history kya hai?, बागेश्वर धाम का इतिहास क्या है?, बागेश्वर धाम का मंदिर कब बनाया गया था?, बागेश्वर धाम का  मंदिर कितने साल पुराना है?, Bageshwar dham ki history in hindi. आज हम आपको उपर दिए गए सभी प्रश्नों के उत्तर देने वाले है। चलिए जानते है, बागेश्वर धाम की हिस्ट्री। 

Bageshwar dham ki history/ बागेश्वर धाम का इतिहास क्या है? 

बागेश्वर धाम का इतिहास क्या है?, माना जाता है, की बागेश्वर धाम का यह ऐतिहासिक मंदिर चंदेल शासन काल से उपस्थित है। लेकिन बागेश्वर धाम का इतिहास सन् 1986 में शुरू हुआ था। क्योंकि सन् 1986 में ग्रामीण वासियों ने इस मंदिर का फिर से नवनिर्माण किया था। मंदिर बन जाने के पश्चात धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री के दादाजी श्री भगवान दास गर्ग जी ने सन् 1987 में चित्रकूट से दीक्षा लेकर बागेश्वर धाम पर रहने लगे। इसके बाद सन् 1989 में भगवान दास गर्ग जी ने वहा पर एक विशाल यज्ञ का आयोजन किया था। इस यज्ञ में आस पास के सभी गांव के व्यक्ति सम्मिलित हुए थे।

जिसके पश्चात भगवान दास गर्ग बागेश्वर धाम पर दरबार लगाने लगे थे। Bageshwar dham ka itihaas यही नहीं खतम हो जाता है। सन् 1996 में धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री के जन्म से ही बागेश्वर धाम सुर्खियों में आने लगा था। लेकिन उस समय इतनी टेक्नोलॉजी नही थी। जिसकी वजह से बागेश्वर धाम की ख्याति जन जन तक नहीं पहुंच पाई। सन् 1987 से लेकर 2015 तक भगवान दास गर्ग जी महाराज धाम पर दरबार लगाया करते थे। ओर dhirendra krishna shastri जी ने अपना गुरु उनके दादाजी को मानते थे।

read this also :- dhirendra maharaj shaadi information

Dhirendra Krishna Shastri ne di bageshwar dham ko alag Pehchaan/ धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की वजह से बागेश्वर धाम को मिली अलग पहचान? 

बागेश्वर धाम के इतिहास में धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री जी ने भी बहुत योगदान दिया है। सन् 2016 में धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री जी ने बागेश्वर धाम की डोर संभाल ली। और महाराज ने अपने दादाजी के आशीर्वाद से बागेश्वर धाम में दिव्य दरबार चलाने लगे। और सन् 2017 में 108 कन्याओं का विवाह सम्मेलन करवा कर बागेश्वर धाम के इतिहास में एक अलग भूमिका निभाई है। धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री जी ने बागेश्वर धाम के दिव्य दरबार में अभी तक लाखों लोगों के मन की बात पर्ची में लिखी है। यही बागेश्वर धाम का इतिहास बागेश्वर धाम को अलग पहचान देता है।

यह सब भी पढ़ें link
बागेश्वर धाम के रहस्य का खुलासा हो गया Click Here
बागेश्वर धाम के आविश्वशनीय चमत्कार Click Here
बागेश्वर की आगामी कथा की लिस्ट Click Here
बागेश्वर धाम का हैरान करने वाला इतिहास Click Here
बागेश्वर धाम में अर्जी कैसे लगाई जाती है Click Here
बागेश्वर धाम में टोकन कब और कैसे मिलेगा Click Here
धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री जीवनी हिंदी में Click Here
धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री बायग्राफी अंग्रेजी में Click Here
बागेश्वर धाम फेमस कैसे हुआ Click Here
bageshwar dham contact number Click Here

Bageshwar dham ki history se jude swaal  

Q1. बागेश्वर धाम के मंदिर का इतिहास क्या है?

Ans1. बागेश्वर धाम के मंदिर का इतिहास बहुत ही पुराना है। माना जाता है, की बागेश्वर धाम का यह मंदिर चंदेल राजाओं के जमाने से उपस्थित है।

Q2. बागेश्वर धाम का मंदिर कब बनाया गया था?

Ans2. बागेश्वर धाम का मंदिर सन् 1986 में गांव वालों ने इसे नया रूप दिया था।

Q3. बागेश्वर धाम का इतिहास क्या कहता है?

Ans3. बागेश्वर धाम का इतिहास यहां पर होने वाले चमत्कार को दिखाया है।

Q4. बागेश्वर धाम का मंदिर सबसे पहले कब खोला गया था?

Ans4. बागेश्वर धाम का मंदिर सबसे पहले सन् 1986 में खोला गया था।

Q5. बागेश्वर के मंदिर के इतिहास की नींव किसने रखी थी?

Ans5. बागेश्वर धाम के मंदिर के इतिहास की नींव भगवान दास गर्ग और गड़ा गांव के लोगो ने रखी थी।

इसको जरूर पढ़े तभी टोकन मिलेगा 👇👇👇👇👇 

बागेश्वर धाम में अर्जी लगाने के लिए इस फोटो पर क्लिक करें

 फोटो पर क्लिक करके अपनी किस्मत बदलो, 🖕🖕🖕🖕

Conclusion

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको बागेश्वर के इतिहास के रूबरू कराया है। Bageshwar dham ki history आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करदो। ताकि बाकी लोग भी bageshwar dham ki history को समझ और जान सके। धन्यवाद।

 

22 thoughts on “बागेश्वर धाम का इतिहास क्या है?/ Bageshwar dham ki history”

  1. Bageshwar Dham darbar ki jai guru jee ko pranam kripya meri pareshani door kare meri arji swikar ki jaay jai bhagewar dham sarkar jai Sri sita ram jai bala Ji

    Reply

Leave a Comment